हम जमाई को क्यों लेते हैं?

हम नींद की कमी से निपटने के लिए जामई लेते हैं लेकिन कमाल की बात यह है कि जामई हमें जगाए नहीं रखता बल्कि इसका एक और उद्देश्य होता है।


शोध से पता चला है कि जामई लेने का असली उद्देश्य मस्तिष्क को ऑक्सीजन प्रदान करना नहीं है, बल्कि हमारे मस्तिष्क को ठंडा करना है।


विशेषज्ञों ने खुलासा किया है कि व्यायाम का थकान और ऊब से कोई लेना-देना नहीं है, बल्कि हमारे मस्तिष्क के गर्म भागों में रक्त को ठंडा करने और मानसिक प्रदर्शन में सुधार करने के लिए है।


वैज्ञानिक पत्रिका फिजियोलॉजी एंड बिहेवियर में प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार, नींद की कमी और थकान मस्तिष्क के तापमान को बढ़ाते हैं।


इसलिए यह सच है कि नींद की कमी से निपटने के लिए हम जामई लेते हैं लेकिन जामई हमें जगाए नहीं रखती बल्कि हवा के झोंके की स्थिति में मस्तिष्क को सही तापमान पर काम करने में मदद करती है।


विशेषज्ञों का कहना है कि जामई मस्तिष्क को प्रभावित करता है।


प्रोफेसर एंड्रयू का कहना है कि मस्तिष्क में तापमान परिवर्तन नींद के चक्र और तनाव हार्मोन कोर्टिसोल के स्तर से जुड़ा हुआ है।

1 टिप्पणियां