कोरोनावायरस: लॉक डाउन में किसी भी कमजोरी को दूर करने के लिए करे इन चीजों का सेवन .
koronaavaayaras: lok daun mein kisee bhee kamajoree ko door karane ke lie kare in cheejon ka sevan.

कोरोनावायरस की वजह से पूरे भारत में अब लॉक डाउन है। जिसकी वजह से पूरा भारत अब घर में ही रहेगा और, आज हम आपको एक ऐसी चीज के बारे में बताने जा रहे हैं। जिसका सेवन आपको जरूर करना चाहिए। क्योंकि कोरोनावायरस से लड़ने के लिए आपको अपने शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को जरूर बढ़ाना पड़ेगा तो, ऐसे में आज हम आपको एक ऐसी चीज के बारे में बताने जा रहे हैं। जिसका अगर आप सेवन करेंगे तो, आपके शरीर का रोग प्रतिरोधक क्षमता जरूर बढ़ेगा और, इस लॉक डाउन में आप भी अपने शरीर का ध्यान जरूर रखिए तो, क्योंकि बीमारियों से और इन्फेक्शन से लड़ने के लिए आपके शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत होना जरूरी है।

आज मैं आपको ऐसी चार चीजों के बारे में बताऊंगा जिनका सेवन करने से किसी भी प्रकार की कमजोरी दूर हो जाएगी । तो उन चार चीजों के बारे में जानने के लिए इस खबर को अंत तक जरूर पढ़ें।

1) दूध में कैल्शियम प्रचुर मात्रा में पाया जाता है और अगर दूध का सेवन रोजाना किया जाए तो इससे हड्डियों को काफी ज्यादा मजबूती मिलती है । इसलिए बच्चों को शुरुआत से ही दूध पीने की आदत डालनी चाहिए । यह कमजोर हड्डियों की समस्या से शरीर को बचाता है ।

2) खजूर एक ऐसी शाकाहारी चीज है जिसका सेवन करने से ना सिर्फ दिमाग को फायदा होता है बल्कि इससे शरीर शारीरिक रूप से भी मजबूत और ताकतवर बनता जाता है । इसलिए प्रत्येक व्यक्ति को खजूर का सेवन जरूर करना चाहिए ।

3) अंडे में कई प्रकार के पोषक तत्व पाए जाते हैं और अंडे का सेवन करने से शरीर को पोषण मिलता है जिससे शरीर मजबूत होता जाता है और शरीर की मांसपेशियां भी मजबूत हो जाती है ।

4) भीगे हुए सोयाबीन खाने से शरीर को हर प्रकार की कमजोरी से छुटकारा मिलता है । इसके सेवन से शरीर सुडौल और चौड़ा बनता जाता है । यह बॉडी का आकार बिल्कुल आकर्षक बना देता है ।

5) हल्दी की जड़ का अर्क अमेरिकन डायबिटीक एसोसिएशन की एक रिपोर्ट के अनुसार, हल्दी में पाया जाने वाला करक्यूमिन तत्व टाइप 2 डायबिटीज को रोकता है। साथ ही हल्दी की जड़ का अर्क भी ग्लूकोज को कम करने के साथ−साथ इंसुलिन प्रतिरोध को कम करता है। जब हमारे शरीर में इंसुलिन प्रतिरोध होता है तो व्यक्ति का शरीर इंसुलिन के प्रति ठीक से प्रतिकि्रया नहीं करता और रक्त में शर्करा का स्तर बढ़ता है। लेकिन हल्दी की जड़ का अर्क इस इंसुलिन प्रतिरोध को कम कर सकता है। इसके लिए आप किसी भी फार्मेसी से यह अर्क ले सकते हैं या फिर मार्केट में इसे कैप्सूल भी मौजूद हैं। डॉक्टर की सलाह पर उनका सेवन भी किया जा सकता है।

5)आंवला और हल्दी आंवला और हल्दी का मिश्रण मधुमेह को नियंत्रित करता है। आंवला को हाई ब्लड शुगर लेवल को कम करने के लिए एक प्राकृतिक उपचार के रूप में इस्तेमाल किया जाता है। इसमें क्रोमियम पाया जाता है, जो कार्बोहाइडेट मेटाबॉलिज्म को नियंत्रित करता है और शरीर की कोशिकाओं को इंसुलिन के प्रति अधिक संवेदनशील बनाता है। साथ ही आंवला मधुमेह रोगियों के कोलेस्टॉल लेवल को भी सही बनाए रखता है, जिससे मधुमेह रोगी को डायबिटीक संबंधी कोलेस्टॉल समस्याएं नहीं होती। इसके इस्तेमाल के लिए दो चम्मच आंवला का रस लेकर उसमें एक चुटकी हल्दी मिलाएं और प्रतिदिन सुबह इसका सेवन करें।

0 टिप्पणियाँ